फ्रेंचाइजी क्या है और ये कितने प्रकार की होती है 2022 | Franchise business definition, meaning, ideas,Franchise business

फ्रेंचाइजी का अर्थ क्या है और ये कितने प्रकार की होती है 2022, 12 महीने चलने वाला बिजनेस, Franchise business, franchise meaning in hindi, franchise in hindi, franchise, franchisee meaning, franchise meaning in marathi, किसी कंपनी की एजेंसी कैसे ले, किसी कंपनी की Franchise कैसे ले, franchise bazar,francheska, business ideas in hindi, vyavsay, i want franchise, what is franchise, फ्रैंचाइज़ी क्या होता है

यह भी पढ़ें –Dr Lal Pathlabs की फ्रैंचाइज़ी लेकर करें महीने की लाखों की कमाई 

जब हम अपना खुद का नया बिजनेस शुरु करते हैं तो हमारे सामने सबसे बड़ी मुश्किल आती है अपने प्रोडक्ट का प्रचार-प्रसार और उसे एक मार्केट का जाना पहचाना ब्रांड बनाने की, आज हम आपकी इसी परेशानी का समाधान लेकर आए हैं कैसा हो अगर आप कोई बिजनेस शुरू करें और बहुत बड़ी कंपनी अपना जाना पहचाना मार्केट का ब्रांड नाम आपको दे! अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कैसे हो सकता है और अगर ऐसा हो जाए तो हमारी तो जिंदगी बन जाए तो चलिए हम आपको बताते हैं आपकी समस्या का समाधान का नाम है फ्रेंचाइजी अगर आप किसी कंपनी की फ्रैंचाइज़ी मिल जाए तो उस के जरिए जरिये आप उस कम्पनी के ब्रांड का नाम प्रयोग करके अपनी सहुलियत के हिसाब से उसकी शाखा शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आपको उस कंपनी के साथ अनुबंध करना पड़ेगा और उसके लिए कुछ फिस भी देना पड़ेगा. अगर आपको किसी कंपनी की फ्रेंचाइजी खोलने के लिए मिल जाती हैं, तो उसके ब्रांड और उसके बिजनेस करने के तरीके, उसके द्वारा किये गए निर्धारित मूल्य एवं तकनीकी आदि का उपयोग कर सकते है. उदाहरण के तौर पर आप रतन टाटा के निवेश वाली जेनरिक दवा स्टार्टअप कंपनी जेनेरिक आधार (Generic Aadhaar) की Franchise लेकर भी लाखो रुपये कमा सकते हैं

यह भी पढ़ें –अमूल Products फ्रैंचाइज़ी कैसे शुरू करे 2022 में पूरी जानकारी

Contents

फ्रेंचाइजी कितने प्रकार की होती है (Types of Franchise)

फ्रेंचाइजी सामान्य तौर पर बिजनेस करने का एक तरीका है जिसे मुख्य रूप से फ्रेंचाइजी Business को तीन अलग-अलग भागों में बांटा गया है अगर हम आसान भाषा में बोले तो फ्रेंचाइजी तीन प्रकार की होती हैं, इन को तीन भागों में बांटने का मुख्य कारण है इन के अलग अलग कार्य क्षेत्र का होन

नीचे हम इनके बारे में विस्तृत जानकारी दे रहे हैं

व्यापार प्रारूप फ्रेंचाइजी (business format Franchise)

बिजनेस प्रारूप फ्रेंचाइजी इस प्रकार की फ़्रैंचाइज़िंग व्यवस्था में आप को स्वतंत्र रूप से चलाने के लिए फ्रैंचाइजी, उस का नाम और उस का ब्रांड सहित आपको उस कंपनी द्वारा दिशा-निर्देश भी दिए जाते है यह Franchise एक स्थापित व्यवसाय प्रदान करती है। यह फ्रेंचाइजी का सबसे सामान्य प्रकार है जो कि ज्यादातर व्यापारियों द्वारा इस्तेमाल किया जाता है.

ये भी पढ़ें- 5 सबसे ज्यादा कमाई वाला बिजनेस-2022

उत्पाद वितरण फ्रेंचाइजी (product distribution Franchise)

उत्पाद वितरण फ्रेंचाइजी इस तरह की फ्रेंचाइजर अगर आप लेते हैं तो यह फ्रेंचाइजी अपना उत्पाद बेचने की अनुमति आप को प्रदान करती है, लेकिन यह फ्रेंचाइजी अपनी तरफ से व्यापार में आप की कोई भी मदद नहीं करती है. इसमें कंपनी का आप के साथ रिश्ता एक विक्रेता की तरह ही होता है, लेकिन आप इसके ब्रांड का इस्तेमाल कर सकते है. इस तरह का सबसे अच्छा उदाहरण ब्रांडेड गैस एजेंसी की फ्रैंचाइज़ी को मान सकते हैं. जिसमें आप उनके ब्रांड का इस्तेमाल तो कर सकते है, लेकिन कंपनी को आपके व्यापार करने के तरीके से कोई लेना-देना नहीं होता है.

यह भी पढ़ें- मख़मली पेन्सिल बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

उत्पाद निर्माण फ्रेंचाइजी (product manufacturing franchise)

इस तरह की फ्रेंचाइजी में कंपनी अपने प्रोडक्ट बनाने एवं अपनी सेवाएं फ्रेंचाइजी दारा देने की अनुमति देती है, वो भी उसके ब्रांड, नाम, साइन, लोगो सभी चीजों का इस्तेमाल करके की इजाजत देती है. कई खाद्य एवं पीने वाले उत्पाद जैसे पीने का पानी की बोतल बनाने वाली कंपनियां इस तरह की फ्रेंचाइजी को ही बढ़ावा देती है.

किसी कंपनी की फ्रेंचाइजी कैसे ले (how to get franchise of a company)

हम जब भी किसी कंपनी की फ्रेंचाइजी लेने का सोचते हैं तो हमें यह बात ध्यान रखनी होगी कि हर फ्रेंचाइजी की कुछ फीस होती है जो हमे चुकानी पड़ती है फ्रेंचाइजी लेने के लिए हर कम्पनी की फ्रैंचाइज़ी शुल्क अलग-अलग होता है.
कुछ कंपनी आपसे अपने उत्पाद को बेचने की मंजूरी देने के बदले, उस उत्पाद को बेचने में हुए लाभ का कुछ प्रतिशत राशि भी लेती हैं. ये एक तरह से फिस जैसा होता है और कंपनी आपसे कितना प्रतिशत शुल्क लेगी यह आपके कंपनी के साथ हुए समझौते पर निर्भर करता है

यह भी पढ़ें – Ola partner बन के शुरू करें बिज़नेस हर महीने 50 हजार रुपए तक होगी कमाई

फ्रेंचाइजी खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज (Documents required to open a franchise)

फ्रेंचाइजी खोलने के लिए इसके लिए आपको फ्रेंचाइजी डिस्क्लोजर डॉक्यूमेंट बनाने की जरूरत होती है. इस दस्तावेज में आपकी फ्रेंचाइजी से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान की जाती है, जैसे फ्रेंचाइजी कैसे चलाना है, किस जगह खोलना है, और आपका बिज़नेस किस पर आधारित है जैसी मुख्य बातें.
दूसरा जरूरी दस्तावेज फ्रेंचाइजी एग्रीमेंट (समझौता पत्र) है जिसे आप किसी वकील के द्वारा आसानी से बनवा सकते हैं, इस एग्रीमेंट पर कंपनी और आपके हस्ताक्षर होना जरुरी हैं. इसका मुख्य उद्देश्य फ्रेंचाइजर की शर्तों को मानने एवं व्यापार सम्बंधित समझौते को लिखित रूप से प्रमाण बनाने के लिए किया जाता है ताकि भविष्य में कोई परेशानी ना हो सके.

कुछ और डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है जैसे कि –
ID Proof :- Aadhaar Card , Pan Card , Voter Card
Address Proof :- Ration Card , Electricity Bill ,
Bank Account With Passbook
Photograph Email ID , Phone Number ,
Other Document
TIN No. & GST No.

यह भी पढ़ें –एक आधुनिक डेयरी फार्म कैसे खोलें, और कैसे करें 10 गाय से 1 लाख तक की कमाई

फ्रेंचाइजी लेने के लिए नियम एवं शर्ते (franchise terms and conditions)

हम किसी भी कंपनी की franchise लेने जाएंगे तो हमें कुछ नियम और शर्तो को मानना पड़ता है जैसे कि –

फ्रेंचाइजी प्राप्त करने के लिए आपको कंपनी के द्वारा निर्धारित शुल्क देना होगा, फ्रेंचाइजी खोलने के लिए आपने जिस जगह का चयन किया है कंपनी उस जगह का जायजा लेगी इस की तयारी पहले से ही करनी होगी आपको एक उचित स्थान का चयन करना होता है.

आपको फ्रेंचाइजी लेने के लिए एक बिज़नेस प्रोजेक्ट रिपोर्ट भी बनानी होगी, जिसमें स्थान एवं आपकी फ्रेंचाइजी से सम्बंधित सभी दस्तावेज देने होते है. जिससे आपकी फ्रेंचाइजी के खोलने का प्रमाण फ्रेंचाइजर के पास भी रहे, इसके लिए आपको एग्रीमेंट भी तैयार करवाना पड़ता है वकिल के द्वारा.इसके बाद आप जहां कम्पनी की फ्रैंचाइज़ी लेकर व्यापार को चलाना चाहते है, उसकी की दीवारों पर किस तरह का पेंट इस्तेमाल किया जाना है. कहां से इसका कच्चा माल खरीदेंगे? और उसकी सजावट किस तरह की होगी. कंपनी से इन सब चीजों पर विस्तार से जानकारी लेकर ही आपको फ्रेंचाइजी शुरू करनी होगी.

साथ ही साथ इन सब चीजों को अपनी फ्रेंचाइजी के ऑपरेशन मेन्यू में पूरी तरह अच्छे से लिखना होगा, फ्रेंचाइजी बॉन्ड पर साइन करते टाइम आपको कंपनी के सभी नियम कानून मानने जरूरी होंगे, और उनको यह भी बताना होगा कि आप कंपनी के सभी नियम मानकर आगे बढ़ेंगे भविष्य में और आप ऐसी कोई कार्य नहीं करेंगे जिससे कंपनी की छवि खराब हो फ्रेंचाइजी की फीस देने के साथ-साथ आपको प्रति उत्पाद बेचने पर, एग्रीमेंट या अनुबंध पत्र के अनुसार कुछ प्रतिशत लाभ कंपनी को देना होगा.

यह भी पढ़ें – इस पत्ते के सिर्फ 100 पौधों से होती है सालाना 2 लाख रुपये तक की  कमाई, सरकार भी करती है सहयोग

भारत में कौन कौन सी कंपनियां फ्रेंचाइजी देती है (List of franchise business in india)

खाद्य एवं पेय उत्पाद बनाने वाली कंपनियां (food and beverage franchise) –

दुनिया भर में खाद्य पदार्थों के क्षेत्र में बहुत सी कंपनियां फ्रेंचाइजी देने के लिए आगे आ रहीं हैं. वहीं अगर बात करे भारत की तो यहा भी बहुत सारी कंपनियां जैसे कि पिज़्ज़ा द ढाबा, Subway, McDonald’s Corp, पतंजली, Domino’s Pizza, Burger King, Pizza Hut एवं KFC जेसी कंपनीया अपनी franchise खोलने का अवसर दे रही है.

शिक्षा केंद्र एवं ट्रेनिंग कंपनियां (franchise in education field)-

शिक्षा केंद्र एवं ट्रेनिंग क्षेत्र की बहुत सारी कंपनिया अपने नाम की फ्रेंचाइजी देनें के लिए आगे आई है इस में सरकारी फ्रेंचाइजी भी शामिल है जैसे प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना फ्रेंचाइजी, अलोहा इंडिया, शिक्षा जूनियर, टीएमसी शिपिंग और नोवटेक रोबो फ्रेंचाइजी आदि शामिल हैं.

यह भी पढ़ें –गांव में करे यह बिजनेस होगी लाखों की कमाई

स्वास्थ एवं सौंदर्य से सम्बंधित फ्रेंचाइजी – (beauty care franchise)

स्वास्थ एवं सौंदर्य से सम्बंधित कई कंपनियों ने भी अपनी फ्रेंचाइजी खोलने का अवसर प्रदान कर रही है. जिनमें मुख्य रूप से है पतंजलि, जावेद हबीब हेयर एंड ब्यूटी, केवा आयुर्वेद हेल्थकेयर, रेलुकिंग इत्यादि.

रिटेलर और कंसल्टेंसी कंपनियां– (retailer and consultant franchise)

रिटेलर और कंसल्टेंसी के क्षेत्र में भी बहुत सारी कंपनियां भी अपनी फ्रेंचाइजी देती है जैसे – लक्मे सैलून, कॉटन किंग, ब्रांड्स डैडी आदि रिटेलर कंपनियां हैं, जो अपनी फ्रेंचाइजी देने में दिलचस्पी रखती है. Brain Checker Techno Service, बिज़नेस डॉक्टर सबसे अच्छी कंसलटेंट (सुझाव देने वाली) कंपनियां है, जो कि भारत में अपनी फ्रेंचाइजी खोलने की इजाजत देती है

अन्य फ्रेंचाइजी कंपनियां– ऊपर दी गयी कंपनियों के अलावा और भी बहुत सारी कंपनियां है, जो अपनी फ्रेंचाइजी खोलने की सुविधा देतीं हैं, जैसे स्पीक इंग्लिश जिम, बच्चों के लिए “किड्-जी”, मेधा लैंग्वेज थिएटर लोगों को थियेटर के जरिए इंग्लिश सिखाने का काम करता है, होटलों में चॉइस होटलस, ग्रीन लैंड घर की सुविधाओं के लिए, एवं ई-पूजा कप्यूटर एवं इंटरनेट सेवा देने वाली कंपनियां शामिल हैं.

फ्रेंचाइजी खोलने के फायदे क्या है (franchise benefits in Hindi)

franchise कंपनी खोलने के बहुत फायदे होते हैं , सब से बड़ा फायदा तो यह होता है कि आप की कंपनी में पैसे लगाने वाला मिल जाता है, इसके साथ ही कंपनी की कमाई भी जल्दी और तेजी से शुरू हो जाती है. और इसके साथ-साथ कंपनी का बिना ज्यादा मेहनत किए फ्रेंचाइजी ब्रांड के कारण उत्पाद देश और दुनिया के कोने-कोने तक आसानी से पहुंचाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें – Ola partner बन के शुरू करें बिज़नेस हर महीने 50 हजार रुपए तक होगी कमाई

फ्रेंचाइजी लेने वाले को फायदे (franchise benefits for franchise)

फ्रेंचाइजी लेने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि हम जब अपना नया बिजनेस शुरू करते हैं तो सबसे बड़ी मुश्किल आती है कि अपने ब्रांड की पहचान बनाना है लेकिन फ्रेंचाइजी में ऐसा नहीं होता वहां आपको बनी बनाई पहचान और ब्रांड मिल जाता है इसमें आपकी कई सालों की मेहनत बच जाती है क्योंकि किसी प्रोडक्ट को ब्रांड बनने और लोगों का उस पर विश्वास बनने में कई साल लगते हैं पर franchise में आपको यह सब बना बनाया मिल जाता है ब्रांड के नाम पर बहुत से लोग अपने आप आकर्षित हो जाते हैं, अर्थात आपको बिना मेहनत किये भी बहुत सारे ग्राहक मिल जाते हैं.

इसका दूसरा बड़ा फायदा ये है कि आपको कभी भी अपने उत्पाद के मूल्य से समझौता नहीं करना पड़ता है, बाजार में मूल्य के उतार-चढ़ाव में भी आपके प्रोडक्ट का मूल्य ब्रांड की वजह से हमेशा अच्छा एवं स्थिर बना रहता है. क्योंकि लोगों को इसका पता ही नहीं होता कि आप इसका निर्माण कर रहे हैं लोगों को लगता है इन्हें बड़ी कंपनी बना रहीं हैं

यह भी पढ़ें – मुर्गी पालन का बिजनेस कैसे शुरू करें 

फ्रेंचाइजी लेने में नुकसान (Disadvantages of taking a franchise)

हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं जहां लाभ होता है वहां की भी होती ही है इसी तरह फ्रेंचाइजी लेने में बहुत सारे लाभ है तो कुछ नुकसान भी हैं अगर आपने फ्रेंचाइजी ले रखी है तो आपको लम्बे समय के लिए आर्थिक तौर पर बंधकर भी रहना पड़ता है.

आपने जिस कंपनी की फ्रेंचाइजी ले रखी है उस कंपनी ने दूसरे लोगों को भी अपनी फ्रेंचाइजी दे रखी होती है अगर किसी ने फ्रेंचाइजी लेकर घटिया सामग्री का निर्माण करता है गलत प्रोडक्ट बनाकर मार्केट में बेचता है तो उससे कंपनी की मार्केट वैल्यू खराब होती है जिसका असर आप पर सीधा पड़ेगा, आपके द्वारा अच्छा प्रोडक्ट बनाने के बाद भी आप की मार्केट वैल्यू कम हो जाएगी

अगर आपके पास अपने बिजनेस को जल्दी बढ़ाने कोई उपाय या नया तरीका है, तो आप उसे अपनी इच्छा से उपयोग नहीं कर सकते हैं उसके लिए आपको फ्रेंचाइजर से सलाह लेनी पड़ेगी, अर्थात् आपको अपनी फ्रेंचाइजी कंपनी के दायरे में रहकर काम करना पड़ेगा.

अगर किसी कारण से आप का बिजनेस बंद हो जाता है तो फ्रेंचाइजी देने वाली कंपनी का इससे कोई भी लेना देना नहीं होता है. जो नुकसान होगा उसके जिम्मेदार आप होंगे आप ही को उस को झेलना पड़ेगा!

फ्रेंचाइजी चुनने में क्या क्या सावधानियां रखें (What are the precautions to be taken in choosing a franchisee)

आपको फ्रेंचाइजी लेने से पहले आप जिस कंपनी की फ्रेंचाइजी लेना चाहते हैं उस की मार्केट में ब्रांड वैल्यू क्या है उस की मांग कितनी है, क्या यह भविष्य में भी इसी तरह इसकी मांग रहने वाली है, ये जानकारी प्राप्त करनी होगी इस पर अध्ययन करना होगा


इसके अलावा कंपनी के काम करने का तरीका कैसा है, और फ्रेंचाइजी लेने में शुल्क कितना लगता है जैसी महत्वपूर्ण चीजों के बारे में पता करना होगा,


साथ ही साथ आपको इससे मिलने वाले लाभ हानि और शर्तों को भी सावधानी पूर्वक अध्ययन करना होगा है, इस के लिए आपको पहले से उस व्यक्ति से मिलना चाहीये जिस ने वह फ्रेंचाइजी पहले से ले रखी हो वह आप को बहुत अच्छी तरह से अपने अनुभव के आधार पर सब बता सकता है जिससे आप व्यापार में आगे आने वाली समस्यायों से बच सकें.


फ्रेंचाइजी हमेशा अपनी योग्यता एवं कार्यक्षमता को ध्यान में रखते हुए ले, क्योंकि किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए इन दोनों की बेहद जरुरत पड़ती है. मतलब आप अपनी प्रतिभा को ध्यान में रखते हुए फ्रेंचाइजी लेने का निर्णय ले.

किस कंपनी की Franchise सबसे अच्छी है?

जिस फ्रेंचाइजी कि मार्केट वेल्यू अच्छी हो और जिस के प्रोडक्ट कि माग सबसे ज्यादा हो, और जिस कि माग भविष्य में बड़ने की ज्यादा उम्मीद हो उस कंपनी का Franchise लेना सबसे ज्यादा अच्छा होता है।

Franchise लेने के लिए किन चीजों की आवश्यकता होती है?

आप के पास अच्छी लोकेशन मे जमीन हो Franchise खोलने के लिए, साथ ही जरूरी डॉक्यूमेंट और फ्रेंचाइजी का शुल्क भरने के लिए रुपये की व्यवस्था हो

किस तरह की Franchise हमारे लिए ज्यादा अच्छी है?

व्यापार प्रारूप फ्रेंचाइजी (business format Franchise) आप के लिए एक बेहतर विकल्प है इस प्रकार की फ़्रैंचाइज़िंग व्यवस्था में आप को स्वतंत्र रूप से चलाने के लिए फ्रैंचाइजी, उस का नाम और उस का ब्रांड सहित आपको उस कंपनी द्वारा दिशा-निर्देश भी दिए जाते है

उत्पाद वितरण फ्रेंचाइजी क्या है? (What is a product distribution Franchise?)

इस तरह की फ्रेंचाइजर अगर आप लेते हैं तो यह फ्रेंचाइजी अपना उत्पाद बेचने की अनुमति आप को प्रदान करती है, लेकिन यह फ्रेंचाइजी अपनी तरफ से व्यापार में आप की कोई भी मदद नहीं करती है. इसमें कंपनी का आप के साथ रिश्ता एक विक्रेता की तरह ही होता है

क्या कंपनी Franchise लेना लाभदायक है?

हाँ ये लाभदायक है पर यह निर्भर करता है आप की कार्य क्षमता पर आप आप के बिजेनस करने के तरीके पर

नये बिजनेस जानकारी के लिए यह भी पढ़े

अदरक की खेती की संपूर्ण जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन मटेरियल का बिजनेस कैसे करें 

कैसे शुरू करे अपना LED Bulb Manufacturing Business

पीवीसी पाइप बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें

₹1 लाख लगाकर हर महीने करें लाखों में कमाई

2 thoughts on “फ्रेंचाइजी क्या है और ये कितने प्रकार की होती है 2022 | Franchise business definition, meaning, ideas,Franchise business”

Leave a Comment